RSS के स्कूलों में पढ़ रहे 4513 मुस्लिम बच्चे, राजस्थान में कर रहे टॉप

Image
Published on

Muslim Students in RSS schools : राजस्थान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) की ओर से संचालित स्कूलों में पढ़ाई कर रहे मुस्लिम स्टूडेंट्स बोर्ड परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदेशभर में स्थित आरएसएस के स्कूलों में पढऩे वाले 4 हजार 513 स्टूडेंट्स में से अधिकतर क्लास 10 और 12 बोर्ड परीक्षाओं में 90 प्रतिशत से ऊपर अंक हासिल कर रहे हैं। संगठन के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने इस बात की पुष्टि भी की है।

muslim students in RSS schools : राजस्थान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) की ओर से संचालित स्कूलों में पढ़ाई कर रहे मुस्लिम स्टूडेंट्स बोर्ड परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदेशभर में स्थित आरएसएस (RSS) के स्कूलों में पढऩे वाले 4 हजार 513 स्टूडेंट्स में से अधिकतर क्लास 10 और 12 बोर्ड परीक्षाओं में 90 प्रतिशत से ऊपर अंक हासिल कर रहे हैं। संगठन के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने इस बात की पुष्टि भी की है।
राजस्थान में आरएसएस के उप सचिव विद्या भारती ने बताया कि बायोलॉजी स्ट्रीम की एक मुस्लिम छात्रा सिमरन बानो ने क्लास 12 बोर्ड परीक्षा में 94.20 प्रतिशत अंक हासिल किए। अब वह सीकर से नीट परीक्षा की तैयारी कर रही है। पूरे क्षेत्र में उसने टॉप किया था। उन्होंने आगे बताया कि सिमरन की छोटी बहन सीमा बानो ने भी 10वीं बोर्ड में बेहतर प्रदर्शन करते हुए 88.30 प्रतिशत अंक हासिल किए। दोनों बहनों की मां राज बानो ने कहा, हम स्कूल से खुश हैं, शिक्षकों और पूरे स्टाफ ने मेरी बेटियों की खूब मदद की। मेरी बेटियां नर्सरी क्लास से स्कूल में पढ़ाई कर रही हैं।
सीमा ने बताया कि स्कूल में होने वाली सभी गतिविधियों में हम बढ़-चढक़र हिस्सा लेते हैं। स्कूल में पढऩे वाले एक अन्य मुस्लिम स्टूडेंट ने कहा कि स्कूल में विद्यार्थियों के सर्वोत्तम शैक्षिक सुविधाएं उपलब् हैं। स्कूल की एक अन्य मुस्लिम छात्रा रूबी चौहान ने 10वीं बोर्ड परीक्षा में 91.67 प्रतिशत अंक हासिल किए। रूबी की बड़ी बहन शबनम चौहान भी इसी स्कूल से पास आउट है।
रूबी का कहना है कि इस स्कूल में स्टूडेंट्स के लिए सबसे अच्छी शैक्षिक सुविधाएं हैं। कुल मिलाकर माहौल अच्छा है और यहां पढऩे वाले बच्चों के विकास के लिए एक समग्र दृष्टिकोण रखा गया है। श्रीमती सूरज कुमारी गदोदिया गल्र्स एवीएम सीनियर सेकेंडरी स्कूल (Shrimati Suraj Kumari Gadodiya Girls AVM Sr Secondary school) की हेडमास्टर भगवंती परवानी, जहां सीमा और रूबी पढ़ाई करती हैं, कहा हमारे सभी स्टूडेंट्स धर्मनिरपेक्ष मानसिकता के साथ पढ़ाई करते हैं। हमने कभी परंपराओं को मिलाने की कोशिश नहीं की।
उल्लेखनीय है कि राजस्थान में आरएसएस विद्या भारती स्कूलों (RSS Vidya Bharti schools ) का संचालन करता है। स्कूलों की जानकारी देते हुए सुरेश वाधवा ने बताया, इनमें पढऩे वाले 2 लाख 84 हजार 306 स्टूडेंट्स में से 4 हजार 513 स्टूडेंट्स मुस्लिम हैं। उन्होंने आगे बताया, हमारे स्कूलों में 48 ईसाई बच्चे भी पढ़ाई कर रहे हैं।
वाधवा ने बताया कि दौसा में सबसे ज्यादा 581 मुस्लिम बच्चे पढ़ते हैं। इसके बाद चूरू का नंबर आता है जहां 540 बच्चे पढ़ते हैं, अलवर में 269, जयपुर में 291, सीकर में 154, करौली में 119, सवाई माधोपुर और भरतपुर में क्रमश: 106 और 185 मुस्लिम बच्चे पढ़ते हैं। जयपुर में कुल 3 हजार 153 बच्चों ने स्कूल में नामांकन करवा रखा जिनमें से 1 हजार 218 लड़कियां हैं। इसके अलावा दो ईसाई बच्चों ने भी दाखिला ले रखा है।
चूरू क्षेत्र के एक अन्य आरएसएस नेता ओम प्रकाश, जो विद्या भारती में जिला सचिव हैं, ने बताया कि हमारे स्कूल में सभी जाति और धर्म के बच्चे पढ़ते हैं। हमारे स्कूल में मुस्लिम शिक्षक भी हैं।